वर्तमान समय में अक्सर देखने को मिल रहा है कि 20 साल से अधिक उम्र होने पर सांस फूलने लगती है। इसका मुख्य कारण अधिक जंक फ़ूड का सेवन हो सकता है। अगर कोई व्यक्ति थोड़ा सा चलता है या सीढियां चढ़ता है और उसकी साँसे फूलने लगतीं हैं, तो ये शरीर के लिए अच्छे संकेत नहीं है। सांस फूलने का मतलब है शरीर में कई पोषक तत्वों की कमी हो चुकी है। इस समस्या से जल्द से जल्द निजात पाना ही उचित होता है। अगर समय से इसका उपचार नहीं किया गया तो यह समस्या आगे चलकर घातक बन जाती है। आज हम आपको थोड़ा सा चलने या सीढियां चढ़ने से सांस फूलने का उपचार बताने जा रहा हूँ। आइये जानते हैं उस उपचार के बारे में।

चलने या सीढियां चढ़ने से सांस फूलने का उपचार

तुलसी हमारी सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होती है। इसके इस्तेमाल से साँसों का फूलना बंद हो सकता है, इसमें भरपुर मात्रा में विटामिन ए और साथ में फैटी एसिड मौजूद होता है। साथ ही इसमें भरपूर मात्रा में एंटी ऑक्सीडेंट के गुण मौजूद होते हैं। ऐसे में अगर आप नियमित रूप से तुलसी के रस में शहद मिलाकर पीते हैं तो इससे आपकी सांस फूलने की समस्या दूर होने लगेगी।

इसके अलावा जंक फूड और तले भूने खाने से भी यह प्रॉब्लम होती है। ऐसे में अगर आप सांस फूलने की समस्या से छुटकारा पाना चाहते हैं तो तले भुने खाने का सेवन करना बंद करें। इसकी जगह आप खाने में हरी सब्जियों, फल, और ड्राई फ्रूटस को शामिल करें।